PM Swamitva Yojana 2023 पीएम स्वामित्व योजना 2023 यहाँ से देखें सम्पूर्ण जानकारी

PM Swamitva Yojana 2023

पीएम स्वामित्व योजना PM Swamitva Yojana 2023 एक पंचायती राज मंत्रालय द्वारा चलाई गई एक केंद्रीय क्षेत्र की योजना है, जिसमे ड्रोन तकनीक का उपयोग करके जमीन की मैपिंग करके भूमि के मालिकों को कानूनी स्वामित्व कार्ड (संपत्ति कार्ड/टाइटल डीड) जारी करवाने की पहल है इसके साथ गांव के घरेलू मालिकों को ‘अधिकारों का रिकॉर्ड’ प्रदान करती है। जो की भूमि का मालिकाना हक प्रदान करती है अधिक जानकारी के लिए नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करके आधिकारिक विज्ञपन देख सकते हो।

PM Swamitva Yojana 2023
PM Swamitva Yojana 2023

PM Swamitva Yojana scheme objectives

  • इस योजना मे ग्रामीण नियोजन के लिए सटीक भूमि अभिलेखों का निर्माण और संपत्ति संबंधी विवादों को कम करना है
  • इस योजना मे ग्रामीण भारत के नागरिकों को ऋण लेने और अन्य वित्तीय लाभों के लिए वित्तीय संपत्ति के रूप में अपनी संपत्ति का उपयोग करने में सक्षम बनाकर वित्तीय मदद करना
  • संपत्ति कर का निर्धारण करके उन राज्यों को सीधे लाभ को प्राप्त होगा जहां इसे हस्तांतरित किया गया है या अन्यथा, राज्य के खाते में जोड़ा जाएगा PM Swamitva Yojana 2023
  • इस योजना के तहत सर्वेक्षण कर उसके संरचना बनाना और जीआईएस मानचित्रों का निर्माण करना जिनका उपयोग किसी भी विभाग द्वारा उनके उपयोग के लिए किया जा सकता है।
  • इस योजना से देश में लगभग 6.62 लाख गांव ऐसे हैं जिन्हें इस योजना में शामिल किया जाएगा।ओर इसका पूर्ण कार्ये पांच साल की अवधि में करने की योजना बनाई गई गई है

Benefits

  • पीएम स्वामित्व योजना मे ग्रामीण संपत्ति के मालिकों को स्वामित्व/स्वामित्व कार्ड प्रदान किया जाना है
  • पीएम स्वामित्व योजना मे ग्रामीण अपने संपत्ति कार्ड का ऋण के रूप में उपयोग करके बैंक वित्त प्राप्त कर सकते हैं क्योंकि ये कार्ड एक आधिकारिक दस्तावेज के रूप में कार्य करता है इसका बहुत अछा लाभ मिलता है

Coverage

पीएम स्वामित्व योजना मे ग्रामीण को देश के सभी गाँव जो अंततः इस योजना में शामिल होंगे। इस योजना मे संपूर्ण कार्य वर्ष मे अप्रैल 2020 से पांच वर्षों की अवधि मार्च 2025 तक सभी ग्रामीण भागों में फेलाने की पहाल बनाई गई है

Eligibility

पीएम स्वामित्व योजना मे बसे हुए ग्रामीण क्षेत्रों में संपत्ति रखने वाले नागरिक इस योजना के तहत पात्र हैं। जो की आबादी वाला ग्रामीण क्षेत्र हो वो इसके पत्र होंगे अधिक जानकारी के लिए याद आधिकारिक विज्ञापन देख सकते हो | पीएम स्वामित्व योजना मे कृषि भूमि शामिल नहीं की गई है| PM Swamitva Yojana 2023

Documents Required

पीएम स्वामित्व योजना मे गांव आबादी के क्षेत्र में संपत्ति के मालिकों को पहचान और स्वामित्व साबित करने के लिए राजस्व अधिकारियों द्वारा मांगे गए आवश्यक दस्तावेज पेश करने होंगे | PM Swamitva Yojana 2023

Application Process

पीएम स्वामित्व योजना के अंतर्गत सबसे पहले कुछ पूर्व सर्वेक्षण, सर्वेक्षण गतिविधियाँ, सर्वेक्षण के बाद की गतिविधियाँ, विवाद समाधान गतिविधियाँ की गई है

  • इस योजना मे सर्वेक्षण करने की अनुमति।
  • इसके अंतर्गत ग्राम सभा का आयोजन – सर्वेक्षण की समय-सारणी की जानकारी देना तथा सर्वेक्षण की पद्धति और ग्रामीणों को इसके लाभों के बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्रदान करना |
  • सीमा और सर्वेक्षण क्षेत्र को अंतिम रूप देना
  • सार्वजनिक अधिसूचना – सर्वेक्षण क्षेत्र को सूचित करने के लिए ड्रोन की सुविधा
  • ड्रोन उड़ाने की अनुमति देना
  • CORS नेटवर्क की स्थापना करना PM Swamitva Yojana 2023
  • ग्राउंड कंट्रोल पॉइंट स्थापित करना
  • ड्रोन छवियों का अधिग्रहण/कैप्चरिंग करना
  • डिजिटल मैप्स – बेस मैप्स जनरेशन और डिजिटल मैप्स की तैयारी करना
  • इसमे पूछताछ/आपत्ति प्रक्रिया – सर्वेक्षण अधिकारी ग्राम सभा ओर भू-स्वामियों की मदद से और मौजूदा दस्तावेजों की जाच के साथ भूमि पार्सल के स्वामित्व को सत्यापित करना
  • इसके तहत संपत्ति कार्ड जारी करना गांव के परिवारों के मालिकों को संपत्ति कार्ड का वितरण करना
  • रिकॉर्ड और भंडारण की नियमित जानकारी देना
  • सरकारी अधिकारियों का प्रशिक्षण और क्षमता निर्माण करना

PM Swamitva Yojana 2023 Important Links

Join Telegram Click Here
Home Click Here

FAQ

प्रश्न – क्या इस योजना में कृषि भूमि का सर्वेक्षण शामिल है?

उत्तर – नहीं। इस योजना में केवल गांव का आबादी क्षेत्र शामिल है।

प्रश्न – स्वामित्व योजना के दूसरे चरण की अवधि क्या है?

उत्तर – दूसरा चरण- यह चरण अप्रैल 2021 से मार्च 2025 तक जारी रहेगा और लगभग 6.62 लाख गांवों को कवर करेगा

प्रश्न – स्वामित्व योजना के लिए पंजीकरण कैसे करें?

उत्तर – पीएम स्वामित्व योजना पोर्टल पंजीकरण 2022 और swamitva.nic.in पर लॉगिन करें

प्रश्न – स्वामित्व योजना के क्या लाभ हैं?

उत्तर – संपत्ति के स्वामित्व का प्रमाण है यह बिना किसी विवाद के संपत्ति खरीदने और बेचने की सुविधा देता है। लाभार्थी संपत्ति के रूप में अपनी संपत्तियों का उपयोग करके बैंकों से ऋण प्राप्त कर सकते हैं। हर गांव में सटीक भूमि रिकॉर्ड बनाए जाएंगे जिससे बेहतर ग्रामीण नियोजन में मदद मिलेगी।

Leave a Comment